Cow Milk Benefits Babies in Hindi

बच्चों के लिए गाय के दूध के फायदे (Cow Milk Benefits Babies in Hindi):-बच्चों को 6 महीने से पहले उन्हें गाय का दूध नहीं देना चाहिए। यह कुछ ऐसा है जो सभी विशेषज्ञ सहमत होते हैं छह महीने बाद, बच्चों के आहार में गाय का दूध जोड़ सकते है। क्योंकि गाय के दूध में अच्छे पोषक तत्व हैं यह शरीर को मजबूत करने में मदद करता है यह बच्चों के समग्र विकास के लिए पोषण संबंधी आवश्यकताओं की सर्वोत्तम प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और जस्ता भी है।

गाय के दूध में पर्याप्त कैल्शियम है यह आपके बच्चे के दाँत और हड्डियों को मजबूत करता है कैल्शियम और अन्य पोषक तत्वों को बढ़ाकर, यह मांसपेशी नियंत्रण और बच्चों के शरीर को विकसित करने में मदद करता है|

(Cow Milk Benefits Babies in Hindi) गाय के दूध में विटामिन ए, विटामिन डी और फास्फोरस होता है। यह शिशु के शरीर में कैल्शियम को अवशोषित करने में मदद करता है,यह उच्च रक्तचाप, हृदय रोग और कैंसर की संभावना कम कर देता है।

विकास के लिए आवश्यक प्रोटीन (Cow Milk Benefits Babies in Hindi)

बाल विकास की उम्र में, उन्हें प्रोटीन की आवश्यकता होती है जो आप उन्हें गाय के दूध के माध्यम से दे सकते हैं इसके अलावा, यह आपके बच्चे को दिन भर तंदुरुस्त भी रखता है|

इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ता है

गाय का दूध इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ता है,इसलिए पेरेंट्स अपने बच्चों को गाय का दूध पिलाते है जिससे उन्हें जल्दी ही कोई बीमारी न पकड़ ले|

दिमाग तेज़ करता है

गाय का दूध बच्चों को दिमाग तेज़ करने के उद्देश्य से पिलाया जाता है,अगर बच्चे नहीं भी पीना चाहते तो भी कुछ न कुछ दूध में मिलाकर पिलाया जाता है जिससे वो गाय का दूध पीने के लिए राज़ी हो जायें|

हड्डियों को करता है मज़बूत

गाय के दूध में कैल्सियम प्रचुर मात्रा में होता है जो हड्डियों को मज़बूत बनता है और बच्चों को इसकी बहुत ही जरूरत होती है क्यूंकि उनका शरीर उस समय विकसित हो रहा होता है| Bacchon ke liye gay ke doodh ke fayde

शिशुओं के लिए कितना दूध सबसे अच्छा है?

अपने बच्चे को ज्यादा दूध न दें कभी-कभी रक्त विकार भी हो सकता है इसलिए एक मध्यम आकार दें। आप प्रति दिन 16 औजे (2 कप) से शुरू कर सकते हैं। (Cow Milk Benefits Babies in Hindi) जब दो वर्ष की उम्र आ रही है तो बच्चे को धीरे-धीरे 24 औंस तक बढ़ाया जा सकता है। उसी समय आपके बच्चे को दूध की ज़रूरत होती है, जिससे इस तरह के अन्य ठोस पदार्थों का सेवन किया जाता है। तो आपको दूध देने से पहले अपने बच्चे की भूख को अच्छी तरह जाने|

पहले छह महीनों के बाद, स्तन का दूध लोहे का पर्याप्त स्रोत नहीं है, इसलिए स्तनपान कराने वाली मां को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि खाद्य पदार्थों के सेवन में बहुत सारे लोहे हों। इसका अर्थ है कि आपके बच्चे के आहार में ताजा या सूखे फल या दुबले लाल मांस, सब्जियां जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन करवाना चाहिए।

लंबे समय तक, पूर्ण-क्रीम या गाय का दूध बेहतर विकल्प माना जाता था। इसलिए क्योंकि आपके बच्चे को ऊर्जा की जरूरत है जो दूध में वसा प्रदान करता है। फैट में आवश्यक विटामिन ए और डी भी होता है। दूध से वसा हटाने से, विटामिन कम हो जाते हैं।लेकिन अधिक से अधिक विशेषज्ञ अब टॉन्ड दूध की सिफारिश करना शुरू कर रहे हैं। अनुसंधान यह भी इंगित करता है कि यदि जीवन के दूसरे वर्ष में टॉनड दूध का उपयोग किया जाता है तो मस्तिष्क की वृद्धि या विटामिन की कमी का कोई प्रतिधारण नहीं है।

कई प्रकार के दूध उपलब्ध हैं और आपके पास बहुत से विकल्प चुनने के लिए हैं। यदि आप अपने बच्चे को दूध देते हैं तो सुनिश्चित करें कि उन्हें उनके आहार में अन्य स्रोतों से वसा मिलता रहे वनस्पति तेल पशु वसा जैसे घी वसा का एक स्वस्थ रूप है। Bacchon ke liye gay ke doodh ke fayde

ध्यान रखें गाय का दूध उबला हुआ हो। कच्चे दूध में ई कोली और साल्मोनेला जैसे हानिकारक जीवाणु हो सकते हैं।

(Cow Milk Benefits Babies in Hindi) दोस्तों आपको यह आर्टिकल कैसा लगा अगर आपको कोई सुझाव देना है तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं|

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here