Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In hindi

Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In Hindi:– दोस्तों पीलिया एक बहूत ही बुरी बिमारी है और यह किसी को भी अपने चपेट में लेके अंदर से कमज़ोर कर सकती है और आपके हॉस्पिटल में भरती होने की भी सम्भावना आ सकती है, लेकिन अगर आप समय रेहेते पीलिया का उपचार करेंगे तो आप ना तो केवल जल्दी ठीक होंगे बल्कि आपको डॉक्टर के पास जाने की भी नौबत नहीं आएगी।   

पीलिया में परहेज़ रखना बहूत ज़रूरी है, और यदि आपको पता हो की किन किन चीज़ों से आपको परहेज़ करना है तो आप पीलिया को बहूत जल्दी ठीक कर सकते है। Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In Hindi अक्सर कम जानकारी होने के कारण हमको पता नहीं होता की पीलिया और अन्य कई बीमारियों को हम समय रेहेते ठीक कर सकते है बस आपको पता होना चाहिए की आपको क्या खाना है और उस्से नही ज्यादा जरुरी है की आपको क्या नहीं खाना।

दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में आपको बताएँगे की आपको पीलिया में क्या नहीं खाना चाहिए, जिस्से आप खुद को सुरक्षित रख सके और पीलिया को छूमंतर कर सके Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In Hindi-

  1. नमक:लिया से जल्दी ठीक करने के लिए व्यक्ति को नमक से बचना चाहिए। नियमित आधार पर नमक के उपयोग से खाद्य पदार्थों में यकृत कोशिकाओं की गिरावट धीमा होती है। तो खाने में अधिक नमक डालने से बचना चाहिए और आचार, चटनी जैसे पदार्थो से बचना चाहिए जिसमें नामक की मात्रा अधिक होती है।
  2. मांस: पीलिया से प्रभावित होने पर सभी प्रकार के मांस को खाने से बचना चाहिए। मांस में संतृप्त वसा का उच्च स्तर होता है जो पीलिया से वसूली को धीमा कर देता है। रोगी जब पूरी तरह से ठीक हो जाये उसके बाद वह मांस का सेवन कर सकता है।
  3. डेयरी उत्पाद: अगर किसी को पीलिया हो दुग्ध उत्पादों से पूरी तरह बचना चाहिए। (Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In Hindi) दूध के उत्पादों में पनीर, मक्खन, छाछ, दही और मार्जरीन शामिल हैं। दूध से बने उत्पाद का प्रयोग अगर आप पीलिया के दौरान करते रहेंगे तो आपके ठीक होने की सम्भावना बहूत धीमी हो जाएगी।
  4. अंडे: अन्डो को पचाने में मुश्किल होती है क्योंकि अन्डो में प्रोटीन की उच्च मात्रा होती है, इसलिए पीलिया के रोगी को अंडे खाने से बचना चाहिए। एक बार आप पूर्ण रूप से ठीक हो जाये तो आप अन्डो का सेवन कर सकते है, पीलिया के बाद रोगी की पाचन क्रिया धीमी हो जाती है इसीलिए अंडे खाने की अनुमति नहीं होती।
  5. कैफीन: पीलिया से ग्रस्त होने पर चाय और कॉफी जैसी कैफीनयुक्त पेय से पूर्ण उप से पीलिया के दौरान बचना चाहिए और पीलिया ठीक होने के तुरंत बाद भी इसके सेवन को कुछ समय के लिए बादित रखना चाहिए। चाय या कॉफ़ी पीलिये के ठीक होने की गति को धीमा कर सकती है, और आपके जल्द ठीक होने में बाधा डाल सकती है।
  6. जंक फूड: पीलिया से प्रभावित होने पर जंक फूड्स सबसे खतरनाक भोजन होता हैं। इसमें अधिक मात्रा में तेल, वसा और अन्य सामग्री होती है जो कि व्यक्ति के स्वास्थ्य और शरीर को बिगाड़ सकती है।
  7. बीन्स: पीलिया के समय शरीर से नाइट्रोजन निकाला नहीं जा सकता क्योंकि शरीर अपनी चयापचय गतिविधियों को ठीक से नहीं कर सकता है। लेकिन बीन्स खाने से शरीर पर भार पड़ेगा और पीलिया ठीक होने में मुश्किल का सामना करना पड़ेगा।
  8. केले: पीलिया से पीड़ित होने पर केले खाने से बचना चाहिए। केले फाइबर सामग्री में समृद्ध है जो पाचन तंत्र पर बहुत दबाव डालते है। यह शरीर में बिलीरुबिन का स्तर भी बढ़ाता है जो पीलिया के प्रभाव को बढ़ाता है।
  9. मक्खन और स्पष्ट मक्खन:

पीलिया से पीड़ित होने पर इन दो पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। ये संतृप्त वसा में समृद्ध हैं जो कि स्वास्थ्य के लिए हानि कारक है और शरीर पर अधिक दबाव पड़ सकता है। आमतौर पर भी मक्खन का दैनिक सेवन केवल सामान्य कुल उष्मा का सेवन का लगभग 7 प्रतिशत होना चाहिए।

दाले:ये प्रोटीन और फाइबर में समृद्ध हैं ये पाचन तंत्र की परेशानी का कारण है और इसलिए पीलिया के दौरान इस्से खाने से बचा जाना चाहिए।

  1. जानें – अनियमित मासिक धर्म के घरेलु उपचार।
  2. जानें – सर्दियों में रुखी त्वचा से बचने के लिए घरेलु नुस्खे।
  3. जानें – सर्दियों में कैसे करे अपने होंठों की देखभाल।

जैसा की अब आपको पता है की आपको पीलिया में किन उत्पादों का सेवन नहीं करना तो ऐसे में अगर आपको या आपके किसी परिजन को पीलिया है तो आप परहेज़ करके इसको जल्द से जल्द ठीक कर सकते है।

(Piliya Me Kya Nahi Khana Chahiye In Hindi)आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा और इससे संबंधित अगर आप हमें कोई अपना सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आप कमेंट कर सकते हैं।

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here