Bachche Ke Dast Ka Ilaj In Hindi

Bachche Ke Dast Ka Ilaj In Hindi:- दोस्तों नवजात शिशु में दस्त की समस्या का होना तो मानो एक आम बात हैं, बचपन में इस समस्या का आना जाना लगा ही रहता हैं और ये भी बात सच हैं की जितना परेशान इस समय एक नवजात शिशु होता हैं कही न कही ज़्यादातर उसके माता पिता उससे ज्यादा कष्ट झेलते हैं, और एक बच्चे की परेशानी को सबसे ज्यादा करीब से समझ सके उस व्यक्ति को माँ ही कहते हैं!

बचपन में हम सबने भी इसी तरह से अपनी माँ की तकलीफों को बहुत ज्यादा बढाया हैं, लेकिन अब इस समस्या के चलते नवजात शिशु को दवाई देना भी लाज़मी नहीं होता तो ऐसे में हर माँ को अपनाने चाहिए घेलु उपचार जिनके पॉजिटिव इफ़ेक्ट तो बहुत सारे होते हैं लेकिन कोई भी साइड इफ्फेक्ट नहीं होता, जो माँ और बच्चे दोनों के लिए अच्छा रहता हैं!

नवजात बच्चे को दस्त होने के कारण (Bachche Ke Dast Ka Ilaj In Hindi)

सबसे पहले ये जानना ज़रूरी हैं की दस्त होते क्यों हैं, तो मैं आपको बता दू की दस्त एक वायरस के संक्रमण के कारन बच्चे के शरीर तक पहुचते हैं और ये वायरस बच्चे के शरीर में गंदगी के कारण  पहुँचता हैं, जैसे:-

* बच्चे का ज़मीं से संपर्क रहना

* बच्चे का किसी भी गन्दी चीज़ को मुंह में ले लेना!

* दूध पाउडर के उपयोग से

* बच्चे का ज्यादा देर पानी के संपर्क में रहने से

* किसी ख़ास चीज़ से एलर्जी होने से

* एंटीबायोटिक के कारण

* साफ़ सफाई का ध्यान न रखने से!

आइये जानते हैं कुछ ऐसे घरेलु उपचार जिनसे हम अपने बच्चे को इस समस्या से छुटकारा दिला सकते हैं – बच्चे के दस्त का इलाज (Bachche Ke Dast Ka Ilaj In Hindi)

* बेल का गुद्दा :- बेल पत्थर के फल का गुद्दा बनाकर दिन में बच्चे को 3-4 बार खिलाया जाए तो इससे बच्चे को दस्त में आराम मिलता हैं!

* जायफल :- जायफल को कूट कर उसका पाउडर बना ले और आधा चमच पाउडर हलके गुनगुने पानी के साथ बच्चे को पिलाये इसे बच्चे को दस्त में जल्दी आराम मिलेगा!

* अनार :- अनार के छिलके को पीसकर उसको पाउडर बना ले और जब भी अब बच्चे को दस्त लगे तो उस पाउडर में शहद मिलाकर बच्चे को चटाए!

* मैथी दाना :- रात में मेथी दाने को भिगो के रख दे और अब इन मेथी दानो को दही में मिलाकर बच्चे को खिलाये, बच्चे को इस उपचार से बहुत तेज़ी से फायदा मिलेगा!

* अदरक :-  बच्चे को जब भी दस्त का सामना करने पड़े तो बस एक छोटा सा अदरक का टुकड़ा उसे चूसने के लिए दे दे!

* सिरका :- अब बच्चे की पेट की गर्मी को दूर भगाना हैं तो बच्चे को सेब का सिरका हर 2 घंटे के अंतराल में दे, इससे बच्चे को ठंडक का अहसास होगा और दस्त में आराम मिलेगा!

* केला :- दस्त के कारण बच्चे की आंते कमजोर हो जाती हैं और इस स्थिति में बच्चे को केले का गुद्दा खिलने से उसकी आंतो को फिर से मजबूत बनाया जा सकता हैं!

* ORS का घोल :- ORS घोल तो वो रामबाण इलाज हैं, जिसकी सलाह एक बूढी दादी भी देती हैं तो एक डॉक्टर भी, क्यूंकि ये ही इतनी असरदार चीज़, तो अगर आपके बच्चे को भी दस्त हैं तो उसे भी ORS का घोल ज़रूर पिलाए!

अब बच्चे को दस्त लगने पर घबराइये नहीं बल्कि सही ढंग से हमारे द्वारा बताये गये घरेलु उपचार कीजिये और अपने बच्चे को एक तंदरुस्त बच्चा बनाइए!

बच्चे के दस्त का इलाज (Bachche Ke Dast Ka Ilaj In Hindi)  आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा और इससे संबंधित अगर आप हमें कोई अपना सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आप कमेंट कर सकते हैं ।

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here