Depression Ke Lakshan In Hindi

Depression Ke Lakshan In Hindi:- दोस्तों डिप्रेशन का अर्थ अवसाद भी होता है, यह एक ऐसी बीमारी है जो कि असल में बीमारी नही बल्कि एक मन का भाव है, इसके होने का सबसे बड़ा कारण होता है आपका किसी काम में असफल होना या प्यार में धोका खाना, किसी बात का गहरा सदमा लगना या आपके साथ किसी ने कुछ बहूत बुरा किया हो, ऐसा होने पर आपका मस्तिष्क हर वक़्त उसी चीज़ के बारे में सोचता रेहता है पर इसकी तुलना अन्य बीमारियों से की जाये तो यह सबसे ज्यादा घातक साबित होती है वो ऐसे की अन्य बीमारियों में आप दवा खा के उस बीमारी का इलाज कर सकते है पर अवसाद में आपको अपने मनोबल और आत्मविश्वास का उपयोग करके इस खतरनाक बीमारी को धूल चटानी पड़ती है सुनने में आसान लगता है ऐसा करना पर असल में कर पाना उतना ही मुश्किल है दरअसल अवसाद में आपका मनोबल और आत्मविश्वास ही टूट जाता है और आप हर रोज डिप्रेशन की गहराइयों में गिरते ही जाते है।

वैसे तो डॉक्टर को बतायेंगे तो वो आपके लीये अनैख दवा लिख देगा पर सच्चाई तो यह है कि आप खुद ही अपनी इस बीमारी की दवा है।

दोस्तों अगर समय रहते हमे पता चल जाये की हम धीरे धीरे डिप्रेशन का शिकार हो रहे है तो हम समय पर अपने मनोबल और अपने आत्मविश्वास से अवसाद से बहार निकल सकते है, आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे लक्षणों के बारे में बताने जा रहे है जिससे आप डिप्रेशन को समय रहते पहचान सकते है और डिप्रेशन (अवसाद) का शिकार होने से बच सकते है।

* अगर आपका शरीर थोड़ा सा काम करने से ही थक जाता है तो यह लक्षण अवसाद का भी हो सकता है,(Depression Ke Lakshan In Hindi) असल में अवसाद की स्थिति में आपका मस्तिष्क आपका साथ नही देता और आपको थकान जल्दी महसूस होने लगती है।

* जब हमारा मस्तिष्क हर समय वो कारण के बारे में सोचता रहता है जिकी वजह से हम अवसाद में जा रहे है तो हमारी नींद सामान्य से कम हो जाती है और यदि आप निंद्रा अवस्था में किसी तरह चले भी जाते है तो रात में बार बार हमारी नींद खुलती रेहती है।

* डिप्रेशन (अवसाद) की स्थिति में अक्सर हमारी पीठ में भी दर्द की शिकायत रेहती है।

* जो लोग अवसाद का शिकार हो जाते है वो अक्सर चिड़चिड़ा बर्ताव करते है, (Depression Ke Lakshan In Hindiअगर आपको भी लगता है आप दिन पे दिन चिड़चिड़े होते जा रहे है तो संभल जाइये और अपनी इस आदत को ठीक कर लीजिये वरना आप और ज्यादा अवसाद की गहराइयों में गिरते ही जायेंगे।

depression ke lakshan in hindi

* डिप्रेशन आपका दिमाग आपका साथ नही देता और उस कारण की तरफ है बार बार आकर्शित होता रेहता है जिसकी वजह से आपका किसी भी तरह का काम करने में ध्यान नही लगता।

* आपको अगर हमेशा ऐसा लगता रेहता है कि आप के साथ कुछ बुरा होने वाला है या आपके साथ कभी कुछ अच्छा नही होता तो हो सकता है यह लक्षण अवसाद का हो।

* अवसाद में अक्सर देखा गया है कि भोजन के पचने की क्रिया सामन्य से धीमी हो जाती है जिसके कारण आपको भूख भी कम लगती है।

* अवसादग्रस्त होने पर आपको सामन्य तौर से ज्यादा सपने आते है वो इसीलिये होता है क्यूंकि आपका मस्तिष्क हर वक़्त उसी कारण के पीछे पड़ा रहता है जिससे कि आप अवसादग्रस्त हुए है।

* डिप्रेशन में अक्सर आपका चेहरा मुरझा जाता है और अपना नेचुरल ग्लो भी खो देता है,(Depression Ke Lakshan In Hindi)  किसी भी चीज़ के बारे ज्यादा सोचना या उस चीज़ की जरूरत से ज्यादा चिंता करना इन सब का सीधा असर हमारे चेहरे पर दिखता है, हमारा चेहरा तभी चमकता है जब हम अंदर से खुश रेहते है।

* डिप्रेशन का शिकार व्यक्ति हर टाइम दुख भरे गाने सुनता रेहता है और सोचता है हर दुख भरा गाना उसी के लीये है और जितना दुख भरे गाने सुनता है उतना ही ज्यादा अवसाद का शिकार होता जाता है।

अवसाद की समस्या को कभी भी इतने हल्के में ना ले और इसके लक्षणों को पहचान के समय पर इसका इलाज करे, जैसा की हमने बताया था कि अवसाद से बहार निकलना खुद अवसादग्रस्त इंसान के हाथ में होता है, अपना माइंड दूसरे कामो की तरफ डाइवर्ट करना, छोटी छोटी चीजों में खुशी ढूंढना, छोटे बचो के साथ ज्यादा टाइम बिताना और खुश मिज़ाज़ संगीत को सुनना ऐसी छोटी छोटी चीज़ें करके अवसादग्रस्त स्थिति से बहार निकला जा सकता है, अगर हमारे बताये गये लक्षणो में से आपको कोई लक्षण नजर आता है तो तुरंत सावधान हो जाये आप धीरे धीरे अवसाद की चपेट में आ रहे है।

(Depression Ke Lakshan In Hindiआपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा और इससे संबंधित अगर आप हमें कोई अपना सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आप कमेंट कर सकते हैं।

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here