haddiyo ko majboot karne ke gharelu upay in hindi

Haddiyo Ko Majboot Karne Ke Gharelu Upay In Hindi:-हड्डियां एक रॉक-हार्ड पदार्थ हैं,उम्र और जीवन शैली में बदलाव के साथ, धीमी हड्डी गठन के कारण हड्डी की घनत्व कम हो जाती है। जिस्से आपको चलने फिरने में दिक्कत होती है, हड्डियो में पीड़ा का अनुभव होता है और सर्दियों में तो ठंड के कारण और भी बुरी हालत हो जाती है।

तो दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में कुछ ऐसे घरेलू उपचारों के बारे में बतायेंगे जिस्से आपकी हड्डियां मजबूत हो जायेंगी और कभी भी आपको पीड़ा का सामना नही करना पड़ेगा।

कम बोन घनत्व के कारण हो सकते है जैसे-

-मूत्र के माध्यम से कैल्शियम का उन्मूलन

-महिलाओं में हार्मोन एस्ट्रोजन का कम उत्पादन, जो हड्डियों को मजबूत करता है

-हड्डी बनाने वाली कोशिकाओं की संख्या में कमी

-हड्डी टूटने की कोशिकाओं की संख्या में वृद्धि

-वंशानुगत कारक

-कुछ दवाएं और विकिरण एक्सपोजर

लो अस्थि घनत्व के लिए प्राकृतिक उपचार

आयुर्वेद इस दोष विकार को वात दोशा द्वारा नियंत्रित होने के रूप में मानता है।(Haddiyo Ko Majboot Karne Ke Gharelu Upay In Hindi) कारण यह है कि रजोनिवृत्ति महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस आम बात है क्योंकि यह वात दोश के समान हानि के कारण भी होता है। कम हड्डी घनत्व के लिए हर्बल उपचार के रूप में करने के लिये यहां पांच चीजें हैं।

haddiyo ko majboot karne ke gharelu upay in hindi

1- तेल मालिशआयुर्वेद में “तिल के तेल को राजा” के रूप में जाना जाता है, तिल का तेल अभ्यंगा प्रदर्शन और हड्डी की ताकत का निर्माण करने के लिए शीर्ष विकल्प है। सूथिंग और पौष्टिक तिल का तेल एक शक्तिशाली टॉनिक हो सकता है त्वचा, हड्डियों और तंत्रिकाओं के लीये, हड्डियों को मजबूत करने के लिए भाप से भरा स्नान करने से पहले रोजाना 15 मिनट के लिए गर्म तिल के तेल से मालिश करे तिल से लाभ लेने का दूसरा तरीका गर्म दूध पीना है जिसमें भुना हुआ तिल का बीज मिलाया गया हो। आयुर्वेदिक तेल जैसे महाभारतीय तेल और धनवंतराम तेल भी हड्डी-निर्माण मालिश के लिये अच्छे हैं।

2- रत्न से प्राकृतिक कैल्शियमऑस्टियोपोरोसिस के लिए आयुर्वेदिक उपचार में प्राकृतिक कैल्शियम स्रोत जैसे कि रत्न शामिल हैं। जैवप्रवाह कैल्शियम मुक्ता पिस्ति (पर्ल कैल्शियम), प्रवल पिस्ति (कोरल कैल्शियम) और अकीक पिस्ति (एगेट कैल्शियम) से प्राप्त किया जा सकता है। यदि आप कम हड्डी खनिज घनत्व से पीड़ित हैं, तो इन रत्न पाउडर से कैल्शियम का चयन करें।

3- नमक को प्रतिबंधित करेंनमक शरीर में कैल्शियम की मात्रा कम कर देता है और शरीर में बनने वाला कैल्शियम मूत्र के द्वारा आपके शरीर से निकल जाता है। अपने कैल्शियम संसाधनों को संरक्षित करने और अच्छे स्वास्थ्य का आनंद लेने के लिए कम नमक आहार भोजन ग्रहण करे।

4- विटामिन डी और फाइटोस्टेग्रन्स में समृद्ध खाद्य पदार्थ खाएंव्यंजन, बीज, पत्तेदार सब्ज़िया और डेयरी उत्पादों के उपभोग से आप बहुत अधिक आवश्यक में विटामिन डी ले सकते हैं। यह वसा घुलनशील विटामिन मजबूत हड्डियों के लिए आयुर्वेदिक घरेलू उपचार है क्योंकि वसा वाटा असंतुलन का सबसे अच्छा जवाब है। घी या स्पष्टीकृत मक्खन स्वस्थ हड्डियों के लिए आपके भोजन के लिए एक बढ़िया अतिरिक्त है। चूंकि अस्थि घनत्व महिला हार्मोन एस्ट्रोजन से निकटता से संबंधित है,(Haddiyo Ko Majboot Karne Ke Gharelu Upay In Hindi) इसलिए फ़्योटोस्ट्रोजन (पौधे एस्ट्रोजेन) में समृद्ध पदार्थ खाने पर विचार करें। अपने दैनिक आहार में सोयाबीन, दाल, सेम और चना शामिल करें।

5- वजन कम करने के व्यायाम करेंजब आपके शरीर का वजन बढ़ जाता है तो इसका सीधा प्रभाव सबसे पहले आपकी पैरो की हड्डियों पे पड़ता है, ज्यादा वजन कर कारण आपकी हड्डी कमज़ोर जो जाती है और एक उम्र के बाद उनमें दर्द होने लगता है, तो वजन कम करने वाले व्यायाम अवश्य करे।

6 – सूर्य का प्रकाश एकमात्र श्रोधसुबह सुबह 10-15 मिनट सूरज की गर्मी लेने से आपकी हड्डियां मजबूत होती है, सुबह का निकलता सूरज आपकी हड्डियों के लीये काफी लाभदायक है, और विटामिन D का एकमात्र असरदार श्रोध है।

दोस्तों बस अपनी रोजमर्रा की ज़िंदगी में छोटे मोटे बदलाव करने से ही आप अपनी हड्डियो को मजबूत बना सकते है, बस हमारे बताये गये घरेलू उपचारों का पालन नियमित रूप से करे और अपनी हड्डियों को कभी भी कमजोर ना रेहने दे।

(Haddiyo Ko Majboot Karne Ke Gharelu Upay In Hindiआपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा और इससे संबंधित अगर आप हमें कोई अपना सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आप कमेंट कर सकते हैं ।

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here