Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi

Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi:– चाहे कोई खेतों में काम कर रहा हो, घने जंगलों में ट्रेकिंग कर रहा हो या घर के जंगली पिछवाड़े में खेल रहा हो, हम सभी सर्प के काटने के शिकार हो सकते हैं। कुछ साँप जीवन-हरने वाले जहरीले होते हैं और अन्य हानिरहित होते हैं। हालांकि तत्काल चिकित्सा ध्यान देने की आवश्यकता है, घरेलू उपाय हल्के जहर या अस्थायी राहत के लिए उपयोग किये जा सकते है। औषधीय पौधों और आम वस्तुओं को अक्सर साँप काटने के लिए लोककथाओं के उपाय के रूप में उपयोग किया जाता है।

ऐसे ही कुछ घरेलु उपचार आज हम आपको बताने वाले है ताकि अगर आपको कभी सांप काट ले तो आप तत्काल ही उसका उपचार कर सके।(Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi)

  • सक्रिय चारकोल –सक्रीय चारकोल को ऐसी जगह जरुर रखना चाहिए जहा सांप के काटने का खतरा हो, सांप के काटने के तुरंत बाद इसका असर तेजी से होता है, इसको आप काटी हुई जगह पर लगा के उसको अच्छे से कपडे से बाँध सकते है ताकि किसी भी तरह का इन्फेक्शन ना हो धुल मिटटी के कारण, आप खाने वाले चारकोल का सेवन भी कर सकते है तुरंत ही सांप के काटने के बाद यह तुरंत ही सांप के ज़हर का असर कम करने में मदद करेगा और आपको तुरंत राहत भी देगा।
  • मुल्तानी मिटटी –मुल्तानी मिटटी में हमारे शरीर में किसी भी प्रकार के घाव भरने की शमता होती है, Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi अगर सांप काट ले तो तुरंत मुल्तानी मिटटी में पानी डालके लैप बना ले और जहा सांप ने काटा है उस जगह लगा ले, आप मुल्तानी मिटटी को खा भी सकते है सांप के ज़हर का असर कम करने के लिये पर ऐसा करने के लिए आपको बहूत अधिक मात्रा में पानी का सेवन करना पड़ेगा वरना, पर जब सांप ने काटा हो तो जान बचाने के लिए ऐसा किया जा सकता है।
  • करी पत्तियां – Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi करी पत्ते विभिन्न स्वास्थ्य मुद्दों के उपचार के लिए उपयोग किया जाते है और विभिन्न पाक व्यंजनों में स्वाद भड़ाने के लिए भी इस्तेमाल में लिये जाते है। करी पत्तों से बना दलिया जहर का असर कम करने और सांप काटने का इलाज करने में मदद करता है।
  • मोंगोज प्लांट -यह पौधा सर्प काटने के लिए एक विषाक्त पदार्थ के रूप में काम करता है और विशेष रूप से रसेल के सांप के डंक के उपचार में प्रभावी होता है। यह जड़ी बूटी सांप के जहर को निष्प्रभावी कर सकता है और आमतौर पर दक्षिणी भारत के जंगलों में पाया जाता है जहां साँप काटने का उदाहरण भी अधिक होता है।
  • इचिनासेआ तेल – कहा जाता है कि यह तेल प्रतिरक्षा को बढ़ावा देता है और शरीर को ठंड और खांसी जैसे आम बीमारियों से बचाता है। इसे विषम रूप से लागू किया जा सकता है और मौसमी तौर पर हर 6 घंटों में सेवन करके सांप के काटने के बाद, उसका असर कम किया जा सकता है।

सांप कभी भी किसी को भी काट सकता है, Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi और आम तौर पर ऐसा तो होता नहीं जहा सांप काटे वहा से अस्पताल नजदीक ही हो, तो ऐसे में आपक हमारे बताये गए घरेलु उपचार की मदद से किसी की जान बचा सकते है, और सांप के ज़हर के असर को कम करके किसी को या खुद को नया जीवन प्रदान कर सकते है।

(Sanp Ke Katne Ka Ilaj in Hindi) आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा और इससे संबंधित अगर आप हमें कोई अपना सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आप कमेंट कर सकते हैं।

SHARE
हेलो दोस्तो, मैं हिना खान Health Sagar से , ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे हैल्थ सागर के माध्यम से आप लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिला |मैं PHD नुयूट्रीशियन हूं और हेल्थ से जुड़े काफी विषयों पर मैंने अध्धयन भी किया है, हैल्थ सागर के रुप में मुझे अपने अनुभव और ज्ञान को लोगो तक पहुंचाने का अवसर मिला है| मुझे यकीन है की यहां शेयर किए गए हेल्थ से जुड़े सभी विषय सूचनात्मक और अध्ययनकारी है, जिसे पढ़कर आपको भी बहुत ही लाभ मिलेगा | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here